ads

short stories with moral for kids

दोस्तो आज आपको यह बताने वाले है short stories with moral for kids के बारे मे हमे यकिन है | short stories with moral बहुत पसंद आयेगा | very short stories 

short stories


शहेर मे एक बेटा , पत्नी एक लडका और मां के साथ रहते थे । मां हर महीने एक आश्रम मे 5000 रुपिस देके आती है । एक दीन बहु ने सास को कहा आप हर महीने 5000 रुपिस क्यु देते है । तब बेटे ने कहा मां के पैसे है मां जो करे वो तब बहु वहा से चली गई । थोडी देर बाद वो बेटा वह से चला गया । मां बेथी हुवी थी वहा पे उस का नातिन खेल रहा था । तब मंनो मंन बोल रही थी । बहु सही तो कह रही थी हमारा कोई नही है आश्रम मे तो क्यु वहा पैसे देते हौ । येसे पैसे नातिन के बैंक मे पैसे दल देते बाद मे काम आयेगे । लेकीन क्या करे मेरे पास किसी का रुण है । तब नातीन ने सुन लीया और दादी रुण क्या होता है । 

दादी सोच मे पड गई । एक समय था तब पती की तबीयत खराब होने के कारण मां अकसर सेवा मे दीन गुजार देती थी । पैसे ना होने के कारण घर मे कुच खाने को नही रहा । जो कुच सामान घर मे था वो बेच के पती के लिये दवा ले आया करते थे । बेटा हर दीन गांव के पास वाली होटेल मे बर्तन धोने का काम करता था और जो कुच बचा कुचा खाना घर ले आता था ।




एक दीन बेटे ने मां से कहा की मे मुँबई जाना चाहता हु वहा पे बडी बडी होटेल है मे वहा पे काफी सारा पैसे कमा सकता हु । मां मंनो मंन सोचती है बेटा मुँबई जायेगा तो हर दीन खाना कोन लायेगा । मे तो अपने पति को अकेले घर मे छोड के नही जा सकती हु । एक दो वार मां ने बेटें से कहा तुम्ह अही पे रहो हम सब साथ रहेगे तो अच्छा है । लेकिन बेटे ने जीद्द पकदी हुवी थी मेय मुँबई जाके बहुत पैसा कमाना चाहता हु। मे तुम्हे हर महीने कुछ पैसे भेगता रहूगा । जेसे आप पीताजी के लीये दवाई और खाना ला सके ।

मां कुच दीनो के लीये किसी के घरो मे काम काज कर ने के लीये जाने लगी । महीने की आखरी दिन को एक टपाली आता है टपाली उस महीला को कहता है तुमहारे बेटे कुच पैसे भेजे है । और एक ख्त भी भेजा है । मां ने ख्त को देखा उस मे लिखा था की मां मे कुच महीने पैसे नही भेज पावुगा अभी तो मे जैसे तेसे अपना गुजारा कर लेता हु जेसे पैसे आयेगे तब मे भेज दुगा । थोडे पैसे से जेसे तेसे कुच महीने निकाल दीये । जो पैसे बचे हुवे थे वो दवा मे निकल गये । अब मां कही जागह पे गई पैसे उधार मांग्ने के लीये । लेकीन किसी ने नही दीया । मां की इसी हालत देखते हुवे एक बुजुर्ग couple वहा से गुजार रहा था उन्होने सब देखा । वो लोग उस मां के पास गये और कहा लो बेटी ये पैसे लो हम आज ही ये पैसे लेके आये है । हम से ज्यादा आपको ये पैसे काम आने वाले है । मां ने पैसे लेने से इंन्कार कर दीया । उन दोनो ने कहा कल मेरा बेटा आने वाला है मुँबई से तो हमे ये पैसे काम नही आने वाले ए तुम्ह रखो । मां ने पैसे लीये और दावा और खाना लिया ।

कुच समय के बाद उस का लडका आता है चलो मां मेरे साथ आज मे बहुत बडा हो गया हु मेरा बिजनेस बहुत अच्छा चल रहा है । मे तुम्हे मुँबई ले जाना चहता हु और पापा का मुँबई मे एक अच्छे हॉस्पिटल मे इलाज करवाना चहता हु । मां ने कहा मुझे 5000 रुपिस चाहीये मुझे किसि को देना है । मां 5000 रुपिस उस बुजुर्ग couple को देने के लिये घर गई लेकीन वहा पे एक औरत ने दरवाजा खोला और औरत ने मां को कहा मेंने उन बुजुर्ग लोगो को एक आश्रम में छोड के आई हु और दरवाजा जोर से बंध कर दीया । पडॉसीने कहा के हमे भी नही पता है मां और पिता को कहा छोड के आये है । पता नही वो लोग केसे रहते होगे ।



मां उसके बेटे के साथ मुँबई चली गई । कुच समय अच्छे से बीताये । बेटे ने कहा चलो मां हम ह्मारा गांव का घर बेच के आते है । बेटा और मां गांव आये घर बेच देने के बाद मां ने कहा के मे थोडी देर बाद अही पे आती है मुझे एक काम करना है । वो मां फिर से उस घर के पास गई और दरवाजा खोला उस घर मे से एक लडका होता है मां ने कहा इस घर मे एक औरत थी वो कहा है उस लडके ने कहा की मेंने मेरे मां और पापा को एक आश्रम मे छोड के आया हु वहा पे पता नही किसि ने हर महीने 5000 रुपिस देते वो लोग अच्छी तरहा रेहते है और मे अया रेहता हु । वो मां मुस्कूराते हुवे वहा से चली गई । अपने बेटे के पास गई और बेटे को कहा अब मेरे मंन को शांति पोह्ची है । जेसे को तेसा मिल गया है । 

 

दोस्तो मुजे यकिन है कि short stories with moral in hindi आप को पसंदआयि होगि । यह 5 lines short stories with moral आपको कोइ भुल करने योगियाता लग्ता है तो हमे कोम्मेंट करके बाताये और आपको कहनिया short stories with moral values लिखने खा पसंद हो तो short stories in hindi या short stories for kids ईमैल कर सकते हो  | short stories online

 

Related essay short story :-- 

short stories with moral for kids

short stories with the moral

a short stories with moral

short stories on moral values

short stories with moral

free short stories

short stories pdf

short stories in english for students

famous short stories


Post a Comment

Previous Post Next Post

Display ads

Display ads