ads

short stories for kids in hindi || stories for kids

दोस्तो आज आपको यह बताने वाले है short stories for kids in hindi के बारे मे हमे यकिन है | short stories for kids बहुत पसंद आयेगा | stories for kids

short stories

short moral stories in hindi

एक अमीर व्यक्ति अपना सारा जीवन पैसे कमाने में लगा देता है उसके पास इतना पैसा था कि वह अपने पूरे जीवन में किसी की मदद नहीं की इतना अपार धन होने के बाद भी उसके अपने लिए उपयोग नहीं किया ना कभी अछे कपड़े लीये ना। ना उसने कबी अपने इच्छाओ को पूरा किया उस को कभी पता नही चला वो कब बुठा हो गया और वो जिंदगी के आखरी पडाव पर आ गया था  

 

आज उसकी जिंदगी का आखरी दिन था और उसे लेने के लिए यमदूत आते है वो आदमी यमदूत से कहने लागा मैंने तो अभी अपनी जिंदगी को ठीक से देखा भी नहीं है मैं तो पैसा कमाने के लीये काम करने में इतना ज्यादा बिजी हो गया था कि मुझे अपने पैसे का उपयोग करने का समय ही नहीं मिला लेकिन अब उन पैसों को खर्च करने का मुझे थोड़ा समय चाहिए लेकिन मृत्यु ने उसे कहा मैं तुम्हें अब और समय नहीं दे सकती हु तुम्हारी जिंदगी का सारा समय समाप्त हो चुका है और अब उन दिनों को बढ़ाया नहीं जा सकता हे ।





 

इस बात को सुनकर वो आदमी ने कहा मेरे पास इतना पैसा है अगर तुम चाहो तो मैं अपको आधा धन तुमको दे सकता हूं लेकिन मुझे एक साल और दे दो जीने के लिए लेकिन मृत्यु ने कहा की नहीं एसा नही हो सकता है । वो आदमी ने कहा एक महीने का समय दे दो जिससे मैं अपनी इच्छाओं को पूरा कर सकु अपने सपनों को जी सके जिन कामों को मैंने कल पर डाल रखा था अभी तो मुझे बहुत सारे काम कर ना है । लेकिन मृत्यु ने मना कर दिया कि नहीं मैं तुम्हें 1 महीने का समय नहीं दे सकती हु । तुम मेरा सारा धन ले लो लेकिन मुझे 1 दिन का समय दे दो । मूत्यु ने कहा तुम अपने समय से धन को प्राप्त कर सकते हो लेकिन धन से समय को कभी प्राप्त नहीं कर सकते हो । जब व्यक्ति को यह समझ में आया कि मैं अपनी सारी जिंदगी की दौलत देकर भी आपने लिए 1 दिन भी नहीं खरीद सकता तो जिंदगी का मोल धन से कितना ज्यादा बढ़कर है।  

 

 

  short stories for kids in hindi

 

यह कहानी है महाभारत के समय महाराज युधिष्ठिर की वो बहुत बड़े धर्मात्मा थे जो भी कोई उनके पास कुछ मांगने आता था उसकी इच्छा जरूर पूरी करते थे लेकिन एक ब्राह्मण आपकी बेटी की शादी के लिए महाराज युधिष्ठिर के पास कुछ आर्थिक सहायता लेने आया । महाराज युधिष्ठिर ने कहा की तुम्ह कल आना आज बहुत काम है मुझे । वो ब्राहमण रोते हुवे वहा से जा रहा था ।


भीमसेन ने उसको देखा और कहा क्या हुवा मुझे बतावो मे दान मांगने के लिए आपकी मदद करूंगा भीमसेन ने चलते चलते पूछा तुम खुदा तू क्यों जा रहे हो जो भी हमारे महेल में आता है वह हमेशा खुश होकर जाता है । इतने उदास होकर लौट रहे हो मैं आपकी मदद जरूर करूंगा । भीमसेन ने उस ब्राह्मण की बात सुनी तो सारे शहेर में ढिंढोरा पिटवा दिया कि मेरे बड़े भ्राता महाराज युधिष्ठिर ने काल पर विजय प्राप्त कर ली है । 






थोड़ी देर को महाराज युधिष्ठिर को पता चली उन्होंने भीमसेन को बुलाकर पूछा कि तुमने सारे शहेर में यह कैसा ढिंढोरा पितवा रहे है । आपसे एक ब्राहमण दान मांगने के लिए आया था लेकिन आप ही उसने कहा कि कल आना इसका मतलब हे  आपको पक्का पता है कि आप कल तक जीवित रहेंगे और यह ब्राह्मण भी जीवित रहेगा और कल तक आपके पास राज्यों भी रहेगा और सारा धन भी रहेगा तो मतलब यही निकलता है कि आपने काल पर विजय प्राप्त कर लीया है | 


भीमसेन की बात को सुनकर मनुष्य को अपनी गलती का एहसास हुआ उन्होंने उसी समय उस ब्राह्मण को बुलाया और उसकी बेटी की शादी के लिए बहुत सारा धन दान में दिया बात तो छोटी सी है लेकिन बहुत बड़ी छुपी हुई है जिंदगी भी जरूरी काम है उन्हें कभी नहीं टालना चाहिए और मैंने अपनी जिंदगी में हमेशा देता है जो लोग हैं हम शाम को करेंगे कभी नहीं करते उनका काम करेंगे।

 


 

 
Related Short Stories :--


short stories for kids in hindi

short stories for students in hindi withmoral

moralstories for childrens in hindi

hindi story for class 1

 

 


दोस्तो मुजे यकिन है कि short moral stories in hindi आप को पसंदआयि होगि । यह bedtime stories in hindi for kids आपको कोइ भुल करने योगियाता लग्ता है तो हमे कोम्मेंट करके बाताये और आपको कहनिया short stories for childrens in hindi  लिखने खा पसंद हो तो short moral stories for kids in hindi या moral stories for kids in hindi ईमैल कर सकते हो  | moral stories for childrens in hindi pdf

Post a Comment

Previous Post Next Post

Display ads

Display ads