real life inspiring stories that touched heart

दोस्तो आज आपको यह बताने वाले है inspirational stories about life के बारे मे हमे यकिन है | inspirational moral stories बहुत पसंद आयेगा | storytelling

motherstory

Inspirational sad story in Hindi

एक परिवार मे मां और उसका एक बेटा वो गांव मे रहता था उसका पती बीमारी की वजाह से खत्ले पे सोता रहता था । मां हर दीन पती की सेवा मे सारा समय निकाल देती थी । दीन भ दीन बित ते गये घर मे खाना पीना खतम होने लगा । पैसे नही होने के कारण मां ने बेटे को स्कूल मे जाना बंध करवा दीया । 

मां पैसे नही होने कारण कमजोर पदने लगी खुद खाना नही खाती थी लेकीन अप्ने पती को और बेटे को खिलाती थी । एक दीन एसा भी आया की घर मे कुच नही था सभी को भुखा सोना पदा । मां ने तो जेसे तेसे 3 दीन बिना खाये अपने को सभाल लीया लेकीन बेटे को सभाल नही पाई । बेटा मां को देखता रहता है मां पती तो देखती रहती है बेटा समज गया की घर मे खाने के लीये कुच नही है ।



दुसरे दीन बेटा गांव के कचरे मे से खाना नीकाल के खाने लगा । लेकीन मां को किसि ने बताया की के तेरा बेटा कचरे से उथा के खाना खाता है । बेटे ने सारी बात सुन लीया बेटा रोते रोते मां के पास जाता है । मां को भी पाता था की घर मे खाने के लीये कुच नही है और मे अपने पती को घर मे छोद के काम करने के लीये जा नही सकति हु । एसी कारण मां ने बेटे को कुच नही कहा ।  

एक दीन एसा आया की पती चल बसे घर मे सारे लोग रो रहे थे । मां पती के पास बेथ के रो रही थी और बेटा एक कोने बेथ के मां को देख रहा था । कुच समय तक घर के पडोसी के वहा से खाना आया मां और बेटे से खुब खाया ।

लेकीन पडोसी के वहा से खाना आना बंध हो गया । मां पती के गुजर जाने के सद्मेसे बहार नही निकल पाई थी । फिर से खाना 2 दीन तक कुच खाना नही मिला । बेटा तो गांव के कचरे मेसे कुच ना कुच फेका हुवा बासी खाना खा लेता था । लेकीन गांव वाले ने कचरा फेकना बंध कर दीया गांव के बहार फेके आजाते थे । बेटा गांव के बहार जा नही सकता था ।

एक दीन बेटा भुख के मारे एक कोने बेथा बेथा मां को कहने लगा की । मां आप क्ब मरोगी ? मां ने पुछ बेटा तुम एसी बात क्यु कर रहे हो तब बेटे ने कहा की आप भी पिता की तरहा खतले पे सोने लगी हो सयाद आप भी मर ने वाली हो । आप मर जावोगी तब पडोसी खाना देने के लीये अयेगे ना । मां का दिल थर थर काप ने लगा मां ने बेटे की बात समज गई और मुस्कुराते हुवे बेटे के सरपे हाथ रखा ।

 


 

Moral of the story the age (mother) inspirational story sad story in hindi

Related short stories :--- 

inspirationalwomen

inspirationalstory

inspirationalstories of success

real lifeinspirational stories of success

shortmotivational stories in hindi

inspiring shortstories on positive attitude

inspirationalstories about life with moral lesson tagalog

23 inspirational stories


दोस्तो मुजे यकिन है कि real life inspirational stories in hindi आप को पसंदआयि होगि । यह inspirational short stories आपको कोइ भुल करने योगियाता लग्ता है तो हमे कोम्मेंट करके बाताये और आपको कहनिया short story about life of a student लिखने खा पसंद हो तो inspirational stories for students या true motivational stories ईमैल कर सकते हो  | real life inspirational stories of success

Post a Comment

Previous Post Next Post

Display ads