ads

Child adventure stories in Hindi

दोस्तो आज आपको यह बताने वाले है adventure stories के बारे मे हमे यकिन है | adventure stories for kids बहुत पसंद आयेगा | short stories in hindi

fairytale 


एक छोटा सा गांव था वहा पे छोटे छोटे घर हुवा करते थे सभी किशान सुबह के समय अपनी खेती का सामान बेच ने के लीये शहेर जाया करते थे और रात्र होने से पहले सब लोग वापस आप ने गांव लोट आते  थे सभी गांव वालो को रात्र के समय डर लगता था ।

गांव से शहेर जाने का एक ही रास्ता था उस रास्ते के बिच मे एक बाडा सा पुरा ना पेड था उस के पिछे कोई नही जाना चहता था सभी लोग कहते है उस पेड के पीछे भुत रहता है सभी लो डरा ता है और मार  दालता है इस लीये वहा पे कोई नही जाता था ।



एक दीन बाला करके छोटा सा लदका अपने पापा के साथ गरमी कि छुट्टीया मनाने के लीये नाना के घर रहने के लिये जाता है । बाला सभी लदके खेल रहे थे वहा पे गया खेल ने के लीये । लेकिन रात्र होने वाली थि इस लीये सभी लदके वहा से चले गये अपने अपने घर । वो बाला वह पे खदा होके सभी लदके को घर जाते हुवे देख रहा था । उसने सोचा कल मुजे जल्दी आना पडेगा खेल ने के लीये वो भी अप ने घर चला गया ।

दुसरे दीन वो जल्दी आ गया खेल ने के लीये वो बाला सभी लदके को मिला और सभी के साथ मिल के खेल ने लगा । खेल खेल मे पाता नही चाला और गेंड थी वो पेड के पीछे चली गयी ।  कोई गेंड लेने के लीये नही जाना चहता था । बाला ने कहा की मेंरे कारण गेंड वहा गई है इस लीये मेही लेने जावुगा । सभी लदके बाला को उस पेड के पास जाने से रोक रहे थे । बाला को बताया की उस पेड के पीछे भुत रहता है इस लीये वह पेड के पास कोई नही जाता है । अब रात्र होने को आई है सभी लोग अपने अपने घर चले जाव । बाल भी अपने घर चला जाता है ।

वह बाला पुरी रात्र सोचता है सच मे भुत होता है । बला सुबह के समय उस पेड के पीछे जाता है गेड को धुधने के चक्कर मे उस्का पैर गड्डे मे गिर जाता है । वह जैसे ही आंख खोलता है तो उस को अजिब तरह की दुनीया दिखाई देती है । रंग्बे-रंगी फुल दीखाई देते है । बाला ने आज तक नही देखे हुवे फल देखा और उस फल को खाने लगता है । उस ने देखा परीयो मधुर गित गुंन-गु-नाते हुवे सभी लोग भुत कहते थे वो तो सुंदर सी परीया थी  । बाला ने फल बहुत खा लीया था इस लीये वो सो गया वहा पे ।

बाला ने जेसे है आंख खोलि तो वो सभी लदके खेल रहे थे वहापे था और चारो और से सभी लदके खदे हुवे थे । बाला ने सभी को उस अजिब दुनीया पेड के पिछे थी उस के बारे मे बताने लगा । मे सुबह मे उस पेड के पिछे गया था वहा पे बाला ने जो कुच देखा वो सब बताया । लेकीन उस की बात कोई नही मान रहा था ।



बाला सोच ने लागा की मेही सपना देख रहा था मे वहा गया था लेकीन मे इस जगह पे केसे आया । सायाद खेलते खेलते सो गया होगा । ए मेरा एक तरहा का अदवेंचर सपना होगा । बाला की छुट्टी खतम हो ने को आयी ईस लिये वो अपने पापा के साथ शहेर चला गया ।  वो अदवेंचर दुनिया बाला की गांव तक ही रही । बाला वो अदवेंचर दुनीया भुल गया और अपनी पठाई लिखाई करने लगा ।


Related Short Story :--

hindi short stories for class 1

small story in hindi

stories in Hindi

 

दोस्तो मुजे यकिन है कि adventure novels आप को पसंदआयि होगि । यह fairytale stories  आपको कोइ भुल करने योगियाता लग्ता है तो हमे कोम्मेंट करके बाताये और आपको कहनिया adventure books to read लिखने खा पसंद हो तो bedtime stories in hindi या the stories in Hindi ईमैल कर सकते हो  | chudail ki kahani chudail ki kahani

Post a Comment

Previous Post Next Post

Display ads

Display ads