ads

 Motivational story on greed

दोस्तो आज आपको यह बताने वाले है Motivational story on greed के बारे मे हमे यकिन है | Motivational story बहुत पसंद आयेगा ।

greed story

एक छोटे से गांव मे एक किशान रहता था उस के परीवार मे एक ननहासा लदका था और उस की पत्नी थी । वो बहुत गरीब था उस के पास पैसा नही था जो कुच वो खेतमे काम करता उसी से पैसे मिलने के बाद वो अपने घर अनाज ले जाता था उसी से उसके परीवार खुशी खुशी से दीन बिता ते थे।एक दीन किशान का लदका बिमार हो गया उसे गांव की हस्पताल मे ले गाया और जो खेती कर ने के लिये पैसे बचाये थे वो पैसे हस्पताल के ईलाज मे लग गये । वो किशान खेत मे फस्ल लगाने के लिये पैसे ना होने के कारण बहुत उदास हो गया था उस की पन्ती ने कहा की गांव के शेठ के पास कुच पैसे ले आवो और खेत मे दाने बो दों ।

दुसरे दीन वो किशान उस शेठ के पास गया और शेठ के पास 7 हजार पैसे उधार मागे । और शेठ ने इस कि वजाह पुछी और किशान ने कहा की मेरा लदका बिमार हो गया था इस लिये हस्पताल मे ईलाज मे पैसे लग गये है इस लिये अब मेरे पास खेती के लिये पैसे नही है । कुच पैसे मिल जाते है तो अच्छा रहता । शेठ को कुच काम काज के कारण पैसे गिने नही और उस किशान को 10 हजार दे दीये । किशान ने पैसे शेठ के पास लिये और घर चला गया । घर जाके किशान कि पत्नी ने पैसे गिने तो कुच पैसे ज्याद निकले ।

किशान की पत्नी को कुच ज्यादा पैसे निकल ने के कारण मन मे लालच आ गई और किशान को कहने लगी की ज्याद पैसे निक्ले है वो हम शेठ को नही बताये गे वो पैसे हम रख लेते है हमे किशी और  चिज मे काम आये गे । लेकिन किशान का मन नही मान रहा था उसने अपनी पत्नी को कहा कि ज्यादा लालच अच्छी नही है । हमारे बुरे वक्त मे शेठ ने हमारी मदद कि थी इस लिये हम शेठ के पैसे नही ले सकते हे शेठ ने हमारी मदद कि है वो हम केसे भुल सकते है ।



किशान कि पत्नी पैसे लोटा ने के लिये मान ही नही रही थी । किशान पुरी रात सोया नही और सोच ते रहा की मे जो कर रहा हु वो थीक है या नही । सुबे किशान ने अपनी पत्नी को फिर से समजाया । हमारा सभीमान को हमे नही गिरा ना चाहीये वो गलत है आज हम लालच कर रहे है कल हमारा लदका लालच करे गा वो ठीक नही है |

बहुत समजाने के बाद किशान कि पत्नी मान गई और किशान वो ज्यादा पैसे अपने साथ लेके शेठ के पास गया । और शेठ से कहा कि अपने मुजे कुच ज्यादा पैसे दे दिये है इस लिये मे वो पैसे लोटा  ने के लिये आया हु । शेठ ने उस किशान कि ईमानदारी देख्ते हुवे खुश हो कर कुच पैसे मिठाई के लिये दिये घर जाते समय मिठाई ले जाना अपने लदके और पत्नी के लिये । किशान वो पैसे नही ले रहा था किशान शेठ से कहने लगा के ये तो मेरा फ्र्ज है कि मे आप को पैसे लोटा दु आपने मेरी मदद कि है तो मे केसे गलत कर सकता हु। शेठ को लगा कि मेरे प्रती किशान का विश्वास बहुत है इस लिये किशान को उसने अपने घर पे काम पे रख लिया । और किशान के लदके की पढ़ाई लिखाई कि जिन्मेदारी उधा लिया ।  

Greed story :- ईमानदारी से जो काम किया जाये उसे मिठा फल मिलता है और लालच करने से विश्वास तुट जाता है और वो उस कि नजरे मे अंधेरे मे रहा है ।               

Related Short story :---  

Greed short story

Story about greedy man


दोस्तो मुजे यकिन है कि True stories about greed आप को पसंदआयि होगि । यह Greed is bad story आपको कोइ भुल करने योगियाता लग्ता है तो हमे कोम्मेंट करके बाताये औरआपको कहनिया Famous stories about greed लिखने खा पसंद हो तो Short story on greed is bad या  Motivational story in hindi ईमैल कर सकते हो  | Inspirational stories hindi


Motivation Story Greedy PDF

Post a Comment

Previous Post Next Post

Display ads

Display ads