ads


Enthusiasm story in Hindi

Enthusiasm story in Hindi नमस्कार दोस्तो आप सभी का स्वागत है दोस्तो आज हम अपको बताने वाले है short stories for kids free के बारे मे अपको बहुत पसंद अयेगि

short stories for kids

एक राजु नाम का लदका था वो शहर मे पापा और मा के साथ रहा करता था राजु अकसर मायुस रहता था क्यु कि पापा काम कि वजाह से ओफिस मे रहा करते थे और मा को घर के काम से फुरसद नहि मिलति थि इस लिये वो राजु बेचेन हो गया

एक दिन राजु के पापा ने उस को एक ननहा सा डॉग लाके दिया वो राजु उस डॉग के साथ खेला करता था वो अकसर उस डॉग को गर्दन मे गुमने को ले जाया करता था वो दोनो मानो पक्के दोस्त बन गये थे वो डॉग राजु को पंसद करने लगा था राजु कि कहि बतो का पालन करता था उस डॉग का खाना पिना सोना उस राजु के साथ हि था

एक दिन हुवा युकि राजु का जनम दिन था उस के पापा ने खेल ने के लिये रीमोट से चल सके उस तराह कि एक कार दिया और वो राजु दिन रात उस कार के साथ खेला करता था और जो वो राजु गर्दन मे रीमोट कार लेके गुमने के लिये जाया करता था और वो राजु उस डॉग कि तरफ ज्यादा ध्यान नहि देता था





राजु दिन रात उस रीमोट के साथ खेल नि वाजह से वो कार खाराब हो गयि अब वो राजु उस डॉग के पास जाता है वो देख ता हे तो वो डॉग घर के एक कोने पे सो रहा होता है राजु आवाज लागाइ चलो हम दोनो खेल ते है लेकिन वो डॉग ने कोइ हलचल नहि दिखाइ साम होने को आइ वो राजु उस डॉग को खेल ने लिये गर्दन मे ले जाना चहता था लेकिन वो डॉग नहि रहा था

साम को जाब पापा आये तब राजु ने पापा को कहा कि डॉग मेरे साथ आज गर्दन मे खेल ने के लिये नहि अया वो डॉग एसा क्यु कर रहा है तब पापा ने राजु को कहा कि उस डॉग का उत्साह खतम हो गया है तुमहारि साथ खेल ने कुदने का जाब तुम उसे गर्दन मे लेके जाते थे तब वो डॉग मे कितनि उत्साह थि गर्दन मे आने कि अब नहि एसा क्यु तुम्हे पता है क्यु कि तुम उस डॉग पे ध्यान नहि देते थे और तुम उस रिमोट वलि कार को लेके गर्दन चले जाते थे ओर उस डॉग को नहि लेके जाते थे इस लिये उस डॉग का उत्साह खातम हो गया है

राजु को पापा कि कहि बातो को सहि लगि और उस डॉग के साथ समय बिताने लगा कुच दिन बाद वो डॉग फिर से उस के राजु के साथ गुल मिल गया उस डॉग मे उत्साह फिर से गया और राजु के साथ खेल ने कुद ने लगा

Moral stories in hindi : जिवान मे यहि बात याद रखनि चाये कि जब नयि चिज मिले तब पुरानि चिज को मत भुलना चाहिये कभि कभि एक दिन जरुर उस चिज काम मे आति है   

Related Stories :-




  
डोस्तो मुजे यकिन है कि Enthusiasm story in Hindi को पसंद अयि होगि Enthusiasm stories for kids in hindi अपको कोइ सुधार करने योगियाता लग्ता है तो हमे कोम्मेंत करके बाताये और अपको kids story in hindi लिखने खा पसंद हो तो Enthusiasm kids story in hindi या short stories for kids free एमैल कर सकते हो | Enthusiasm Story

Short Stories for kids pdf


Post a Comment

Previous Post Next Post

Display ads

Display ads