Story of witches in Hindi || चुड़ैलों की कहानी

witches story
  
नमस्कार दोस्तो आप सभी का स्वागत है दोस्तो आज हम आपको बताने वाले है। witches hindi kahaniya के बारे मे आपको बहुत पसंद आयेगि  Stories with witches

एक मायापुर करके ग़ाव था वहा पे भिन भिन प्रकार के लोग रहा करते थे लेकिन गाव मे बहुत साल पुराना एक महेल था उस महेल के अगल बगल कोइ नहि जाना चहता था चुड़ैलों अकसर साथ मिल के मेहल मे पार्टि करति थि तरह तरह के सोर सराबे ओर अवाज निकाल ति थि उस आजाव सुनके गाव वाले दर जाते थे और गाव के सब लोग साम के समय अपने घर मे हि रहते थे

गाव वाले उस सोर सराबे से परेशान हो गये थे लेकिन किसि मे भि हिम्मत नहि थि कि उस चुड़ैलों से बात कर सके हर रोज गाव के लोग मिलते है और चुड़ैलों कि बात किया करते है कि केसे चुड़ैलों कि परेशानि दुर करे एक दिन सभि गाव वालो ने एक साथ मिलके उस महेल कि और जाने कि सोचा वो सब महेल के ग़ेट पे पोहचे इतनिदेर के बात आवाज आति है मे .मे.  मे.  मे.  करके सभि लोग दर जाते है अपना जिव हाथ मे रखे गाव कि और भगने लगते है गाव मे आजाने के बाद एक दुसरे कि और देखते है लेकिन सभि लोग को पता नहि कि हम लोग वहा क्यु भागे तब एक लदका कहता है कि वो तो बिल्ली रानि थि वो मे. मे. मे. कर रहि थि देखो मे उस बिल्ली को वहा से लेके गाया और आप सभि तो दबे पवो से भगते हि चले गये

दुसरे दिन फिर से गाव मे सभ लोग मिलके महेल पे जाने का सोचा सभि लोग गये लेकिन सहराते दबे पाव महेल कि और बधते चले गये गाव वाले महेल के गेट पे पोहच ते है गाव वालो को देख के कुता जोर जोर से भोख ने लगता है गाव वाले दर ने लगे एक दुसरे कहने लगे कि दरो नहि हम सब साथ है



महेल मे जोर सोर से पार्टि चल रहि होति है इस लिये जो गाव वाले दर कि वजह से जो आवाज निकाल रहे थे वो चुड़ैलों को सुनाइ नहि दिया एक चुड़ैल वहा से महेल कि बलकनि पे आके खदि होति है तब उसे गाव वाले दिखाइ देते है लेकिन गाव वले ने भि उस चुड़ैल को देख लिया और जोर जोर से चिल्ला ने लगे ओर वहा से गाव वाले भाग ने लगे ओर सभि अपने घर मे छुप गये दो दिन तक वो सब अपने घर से बाहर नहि निकले

गाव मे सब लोग कहने लगे कि उस चुड़ैल के एक हाथ नहि था सब लोग दर ने लगे तब से गाव वाले ने तय किया कि उस महेल कि और कोइ नहि जाये गा और साम होते हि अपने अपने घर मे चले जये गे

एक दिन चुड़ैल उस गाव कि और रहि थि गाव वाले ने उस चुड़ैल को देख लिया और सभि लोग को बुलाया और वो चुड़ैल को देखाय लेकिन उस चुड़ैल ने गाव वाले को देख लिया था गाव वाले सब लोग साथ एक दुसरे हाथ पक्द के खदे हो गये वो चुड़ैल गाव वाले के साम ने आति है और कहति है कि दरो मट मे तमहे कुच नहि करुगि अप लोग महेल के गेट पे आके क्यु चले जाते है सब कहने लगे कि हमे दर लग रहा था इसलिये हम वहा से चले आते थे

चुड़ैलों गाव वालो को पुछा आप सभ क्यु महेल मे आते थे गाव वाले कहते है कि महेल से अजिब अजिब सोर सराबे और चिल्ला ने कि आवाज आति हे तो सब लोग बहुत दर रहे थे चुड़ैल ने कहा कि आप लोग कल महेल मे आजाना और हम लोग सब साथ मे बेथ के इस परेशानि का हल निकाल देगे

चुड़ैलों ओर गाव वाले सब लोग साथ मे बेथ के आपस मे बात चित करते हे और जो गाव वाले कि परेशानि थि उस का हल निकाला चुड़ैलों ने तय किया कि कभि कभि पर्टि करेगे और सोर सराबे कम किया करे गे

गाव वले सब खुसि खुसि अपने घर चले गये और सभि लोगो को अब चेन कि निंद अने लगि  


Related Stories :-

  
दोस्तो मुजे यकिन है कि Story of witches in Hindi ये आपको पसंद आयि होगि Witches stories hindi short stories पको कोइ सुधार करने योगियाता लग्ता है तो हमे कोम्मेंत करके बाताये और आपको short real drama stories लिखने का पसंद हो तो hindi stories witches या Witches story in hindi एमैल कर सकते हो

Short Stories For Kids Pdf





Post a Comment

Previous Post Next Post

Display ads