दोस्तो आज आपको यह बताने वाले है Inspirational Stories For Kids के बारे मे हमे यकिन है Inspiring Short Stories On Positive Attitude In Hindi बहुत पसंद आयेगा । Hindi Moral Stories


Inspiring Short Stories On Positive Attitude



 Inspiring Short Stories On Positive Attitude


सुंदर करके लड़का था वह बहुत डरपोक और ठिला था उसे किसी भी काम में मन नहीं लगता था | किसी भी जगह पर नहीं जना चाहता था तो उसे देखकर सभी लोग उसकी मजाक उड़ाते थे। लेकिन एक दिन वो गांव में रम्मत महोत्सव हो रहा था तो उसने भी सोचा कि मैं भी रम्मत महोत्सव में भाग लेता हूं

वह कुछ भी काम ठीक से नहीं कर पाता था वह अपना नाम रम्मत महोत्सव में लिखवाने के लिए गया तो सभी दोस्त ने उसका मजाक उड़ाने लगे तो मनो मन वो डरने लगा और वो वापस अपने घार लोत ने लागा। तभि वहापे बुजुर्ग ददाजि अये। और उसे सुदर को मायुस हुवा देखे और तभि सुदर को बुलाते है। क्या हुवा मेरे बच्चे क्यु मयुस हो
  
सुदर बुजुर्ग ददाजि को बता हे के मे रम्मत महोत्सव भाग लेता हु और मे वो खेल को नहि खेल पया तो क्या करु गा। सभि लोग मेरि मजाक उदाने लगे गे इस लिये मे घर जा रहा हु बुजुर्ग ददाजि सुदर को कहा कि मेरे बच्चे काम करो पुरे लगन और मेहनत के सथा मुजे यकिन हे तुम जरुर कर पवो गे।

तुम कोशिश तो कर ही सकते हो तभी वह सुंदर दादाजी की कही हुई बात को मानता है।और कुछ रम्मत महोत्सव में अपना नाम लिखवाने जाता है तभी सुंदर को लगता है कि मुझे दादाजी कहि हुवि बात को पलन करना चाहिये जो मे पहले जो काम करता था उस काम में वह मन नहीं लगाता था।

इसलिए वह काम उसको अच्छा नहीं लगता था। थोड़ी देर के बाद वह बहुत सोचता है और अपना मान को बदलने में कामयाब होता है और वह जो रम्मत महोत्सव में भाग लिया था उसमें खेल को पूरी शिद्दत और लगन के साथ बहुत मेहनत करता है और वह खेल को जीत जाता है सभी लोग उसकी तरह हि  देखने लगते हैं।

यह सुंदर ने क्या किया आज तक किसी काम में मन नहीं लगा था सभि लोगो को यकीन नहीं होता है लेकिन हकीकत तो हकीकत की होती है सुंदर वह जीत गया था और सभी लोग उसकी जय जयकार करने लगते हैं| और सुंदर सभि लोगो के तरफ देख ते हुवे रोने लगता है ताली से सुंदर का आत्मविश्वास बढ़ जाता है

उसके अंदर का जो दर भरा हुवा था वह भी निकल जाता है और वो दोरते हुवे बुजुर्ग दादाजी के पास चला जाता है। दादा जी के पास जाकर कहता है कि आपने मुझे समझाया बताया इसलिए धन्यवाद मैं आज आपकी वजह से ही कामयाब हुआ हूं। दादा जी कहते हैं कि जो भी काम करो पूरे लगन के साथ करो उसमें अपनी जी जान लगा दो पूरी तरह से मेहनत करो और वह काम को खत्म करो।


Short Story About God With Moral lesson-कभि भि अपना काम को अधुरा छोदे पुरि मेहनत करो उस काम मे चाहे कुच भि हो हार या जित जित ना जरुरि नहि हे उस काम को कर ना जरुरि है।

Related Story:-



दोस्तो आपको ये Positive Thinking Real life Examplesकैसी लगी? आप comments के द्वारा हमें अवश्य बतायें. ये Positive Thinking And Negative Thinking Storiesपसंद आने पर Like और Share करें. ऐसी ही और Motivational Story/Inspirational Story In Hindi पढ़ने के लिए हमें Subscribe कर लें. Thanks.

Post a Comment

Previous Post Next Post

Display ads