Happy Ending Massage For Public Happy Independence Day India Wishes 2020



Happy Ending Massage For Public Happy Independence Day India Wishes 2020 



15 अगस्त भारत को आजादी मिली थी स्वतंत्रता दिवस राष्ट्रीय ध्वज 


Happy Independence Day




Happy Ending Massage-भारत में 15 अगस्त बहुत उत्साह और गौरव के साथ मनाया जाता है। 15 अगस्त 1947 को भारत को अंग्रेजों की गुलामी से आजादी मिली थी। तब से हमारे देश में हर वर्ष 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है। इस दिन भारत के प्रधानमंत्री लाल किला पर राष्ट्रीय ध्वज फहराते हैं। इस दिन सभी सरकारी कार्यालय जैसे बैंक, पोस्ट ऑफिस आदि में अवकाश होता है। इसके साथ ही सभी स्कूल और ऑफिस में तिरंगा फहराया जाता है। इसके साथ ही कई स्कूल और कॉलेज में निबंध, कविता,भाषण, नाटक आदि कई प्रतियोगिता भी आयोजित की जाती है।

15 अगस्त 1947 को हमारा देश स्वतंत्र हो गया। 15 अगस्त 1947 के इस दिन हमें अपनी स्वतंत्रता मिली। 15 अगस्त 1947 से पहले, हमारे देश पर अंग्रेजों का शासन था। गांधीजी ने हमें इससे मुक्त करने के लिए सत्याग्रह शुरू किया। इसमें उन्हें बापू की उपाधि मिली।

Happy Ending Quotes-सत्याग्रह में, गांधीजी को हमारे देश के नेताओं और देश वशी ओ का  बहुत समर्थन दिया गया था।आखिर कार 15 अगस्त 1947 को हमारा देश स्वतंत्र हो गया।

Happy Independence Day-15 अगस्त को, हमारे देश के प्रधान मंत्री सुबह लाल किले पर ध्वज को सलामी देते हैं और राष्ट्रीय ध्वज लहराते हैं।  15 अगस्त का दिन है। सभी स्कूल, कॉलेज, सरकारी कार्यालय सार्वजनिक छुटी होति हैं। स्कूल, कॉलेज, सरकारी कार्यालयों में झंडे की सलामी ली जाती है, देशभक्ति के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं 15 अगस्त को राष्ट्रीय अवकाश के रूप में मनाया जाता है

सरदार वल्लभभाई पटेल (India Independence day)


सरदार वल्लभभाई पटेल का जन्म 3 अक्टूबर 19 को गुजरात में एक किसान परिवार में हुआ था। उनके पिता का नाम जमीर भाई और माता का नाम लाडवा देवी था।सरदार पटेल को लौह पुरुष के रूप में भी जाना जाता है। उन्हें भारत रत्न से भी सम्मानित किया गया था।


जवाहर लाल नेहरू(Independence Day Essay)


जवाहरलाल नेहरू भारत के पहले प्रधानमंत्री बने। जवाहरलाल नेहरू भारत के पहले और सबसे लंबे समय तक शासन करने वाले प्रधानमंत्री थे। अंग्रेजों ने उन्हें कई बार कैद किया और जेल में रहते हुए किताबें लिखीं। 1947 में हमारे देश के स्वतंत्र होने के बाद, उन्होंने प्रधानमंत्री के रूप में सफलतापूर्वक काम करना जारी रखा।

जवाहरलाल नेहरू बच्चे को बहुत प्यार करते थे। बच्चों के चाचा नेहरू थे।इसलिए उनके जन्मदिन को बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है। पंडित जवाहरलाल नेहरू ने देश के लोगों को अराम हरम सूत्र दिया।

           Happy Independence Day India Wishes 2020

भारत देश हमारा प्यारा।
सारे विश्व में हैं न्यारा।
अलग अलग हैं यहाँ रूप रंग।
पर सभी एक सुर में गाते।
झेंडा ऊँचा रहे हमारा।
हर परदेश की अलग जुबान।
पर मिठास की उनमे शान।
अनेकता में एकता पिरोकर।
सबने मिल जुल कर देश संवारा।
लगा रहा हैं भारत सारा।
हम सब एक हैं’ का नारा।

Independence Day Speech In Hindi


Happy Ending Massage-ब्रिटिश शासन से आजादी मिलने की वजह से भारत में स्वतंत्रता दिवस सभी भारतीयों के लिये एक महत्वपूर्णं दिन है। हम इस दिन को हर साल 15 अगस्त 1947 से मना रहे है। गांधी, भगत सिंह, लाला लाजपत राय, तिलक और चन्द्रशेखर आजाद जैसे हजारों देशभक्तों की कुर्बानी से स्वतंत्रत हुआ भारत दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के रुप में गिना जाता है।

आजादी के इस पर्व को सभी भारतीय अपने-अपने तरीके से मनाते है, जैसे उत्सव की जगह को सजाना, फिल्में देखकर, अपने घरों पर राष्ट्रीय झंडे को लगा कर, राष्ट्रगान और देशभक्ति गीत गाकर, तथा कई सारे सामाजिक क्रियाकलापों में भाग लेकर। राष्ट्रीय गौरव के इस पर्व को भारत सरकार द्वारा बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री द्वारा दिल्ली के लाल किले पर झंडा फहराया जाता है और उसके बाद इस उत्सव को और खास बनाने के लिये भारतीय सेनाओं द्वारा परेड, विभिन्न राज्यों की झांकियों की प्रस्तुति, और राष्ट्रगान की धुन के साथ पूरा वातावरण देशभक्ति से सराबोर हो उठता है।

राज्यों में भी स्वतंत्रता दिवस को इसी उत्साह के साथ मनाया जाता है जिसमें राज्यों के राज्यपाल और मुख्यमंत्री मुख्य अतिथी के तौर पर होते है। कुछ लोग सुबह जल्दी ही तैयार होकर प्रधानमंत्री के भाषण का इंतजार करते है। भारतीय स्वतंत्रता इतिहास से प्रभावित होकर कुछ लोग 15 अगस्त के दिन देशभक्ति से ओतप्रोत फिल्में देखते है साथ ही सामाजिक कार्यक्रमों में भाग लेते हैं।

महात्मा गांधी के अहिंसा आंदोलन की वजह से हमारे स्वतंत्रता सेनानियों को खूब मदद मिली और 200 साल के लंबे संघर्ष के बाद ब्रिटिश शासन से आजादी मिली। स्वतंत्रता के लिये किये गये कड़े संघर्ष ने उत्प्रेरक का काम किया जिसने ब्रिटिश शासन के खिलाफ अपने अधिकारों के लिये हर भारतीय को एक साथ किया, चाहे वो किसी भी धर्म, वर्ग, जाति, संस्कृति या परंपरा को मानने वाले हो। यहां तक कि अरुणा आसिफ अली, एनी बेसेंट, कमला नेहरु, सरोजिनी नायडु और विजय लक्ष्मी पंडित जैसी महिलाओं ने भी चुल्हा-चौका छोड़कर आजादी की लड़ाई में अपनी महत्वपूर्णं भूमिका अदा की।

Hardik Patel

Hi. I’m Designer of Website. I’m CEO/Founder of Website Motivation Stories . I’m Writing A Motivation Stories,Real Life Stories,Biography,Motivation Shayri,Sad Shayri I Have Create All Type stories. I try it best GivaUp All Pepoles Thanku So Much

  • Image
  • Image
  • Image
  • Image
    Blogger Comment
    Facebook Comment

0 comments:

Post a comment