ads


Short Stories About Courage And Bravery

Funny Short Stories About Courage को बताने वाले है।Funny Courage quotes Funny story lines अपको बहुत पसंद अयेगि। Funy stories Courage


Courage Story 


एक रामपुर करके गाव था वहा पे एक गरिब आदमि रहता था वो आदमि के दो ननहे पायारे से बच्चे है एक जो ननहा सा बच्चा था वो बहुत बदमास था वो कुच ना कुच बदमाशि करता हि रहता था और बदा बच्चा था वो बहुत होशियार और मेहंनति बच्चा था एक बार कि बात है कि गाव मे एक मंदिर है वहापे  एक पुजारि रहता था   वो ननहा बच्चा अक्सर वो पुजारि को तग किया करता था और बदा बच्चा पुजारि को मदद किया करता था और वो पुजारि वो बदे बच्चे को प्रसद दिया करता था और वो ननहा सा बच्चे प्रसद नहि देता था

वो ननहा बच्चा अपने पापा से कहता हे मंदिर के पुजारि बदे भाइ कोहि प्रसद देते है और मुजे क्यु नहि देते है। तब उस पापा कहते है कि तुम बहुत बदमाशि करते है ना इस लिये तुमहे प्रसाद नहि मिलता हे काल से तुम अपने भाइ कि मदद किया करो तब तुमहे भि प्रसद मिले गा

एक दिन बदासा जो बच्चा था वो पुजारि को पुछता है कि मेरे छोटे से भाइ को क्यु अप पसंद नहि करते वो बहुत अछा है पुजारि ने कहा कि तुम अपने भाइ को कल मेरे पास ले अना





दुसरे दिन दोनो भाइ पुजारि के पास गये और पुजारि ने कहा कि तुमहे मेरा एक काम करना है गाव मे सभि के घर जाके सभि को मदद करनि हे और मे जो प्रसद तुम्हे देता हु वो सभि के घर पे जाके देना है

दोनो भाइ गाव मे गये और सभि को मदद कर रहे थे। ननहा सा बच्चे को बहुत जोर से भुख लगि और जो प्रसाद थावो खा गया। और थोदे से घर रह गये थे प्रसाद देने के लिये  वहा पे कच्चे आम दे दिये और कहा कि पिजारि ने आम का प्रसाद बाना ने को कहा है वो दोनो जब मंदिर गये और पुजारि से मेले और पुजारि कहता है कि जो काम सोपा था वो हो गाया वो दोनो बच्चे कहते है कि हा हो गया। और गाव के कुच घर पे प्रसद ना मिला था वो लोग मंदिर के पुजारि के पास आये कचे आम था उस का प्रसाद बनाके लये और पुजारि को दिया वो पुजारि उस कचे आम का प्रसाद देख के खुस  हो गये   

लेकिन उस ननहे  बच्चे को सजा मिलि क्यु कि कुच घर पे प्रसाद ना मिल पाने कि वजाह से पुजारि ने कहा कि तुम पुरे मंदिर कि सफाइ कर नि पदेगि अकेला हि वो ननहे बच्चे ने  दो दिन का काम एक दिन मे कर दिया साहास और अपनि बहादुरि से तब पुजारि को लगा के बच्चा बहुत अछा है मे जो इस बच्चे के साथ कर रहा हु वो गलत हे वो तो ननहा सा बच्चा हे शरार्त तो करेगा हि आज से वो ब्च्चे को प्रसाद वो देने लगे  

वो दोनो बच्चे हर दिन वो मंदिर कि सेवा कर ने लगे और मंदिर के पुजारि ने हर रोज उस बच्चो को प्रसाद देने लगे

Fun Story Moral :--- शरारत कर के किसि को दुख ना पोहचा ना चहिये बहादुर और साहास दिखाके अछा काम करना चभिये   

Realted Stories:----


डोस्तो मुजे यकिन है कि Stories of fun Short Stories About courage अप को पसंदअयि होगि Funny bravery quotes Fun stories अपको कोइ सुधार करने योगियाता लग्ता है तो हमे कोम्मेंत करके बाताये और अपको कहनिया short story on Courage Funny लिखने खा पसंद हो तो हमे Short Stories on Courage with Moral या Courageous Kids Stories एमैल कर सक्ते हो | 

Post a Comment

Previous Post Next Post

Display ads

Display ads